माता मसानी मंदिर पर हुआ मेले का आयोजन, दूर दराज से आए भक्त

0
33

अलीगढ़। होली पर्व के बाद पड़ने प्रथम मंगलवार को नगला मसानी स्थित माता मसानी मंदिर पर बसौड़ा पूजन पर मेले का आयोजन किया गया। मेले में अलीगढ़ शहर के विभिन्न स्थानों से माता मसानी मंदिर पहुंचकर माता का आशीर्वाद प्राप्त किया।
शहर के नगला मसानी स्थित प्राचीन माता मसानी पर दशकों से मंदिर पर मेले का आयोजन होता आ रहा है, अतः गत वर्षाें की भांति इस वर्ष भी वृहद मेले का आयोजन किया गया। जिसमें प्रातः काल से ही देर सायं तक शहर भर के विभिन्न स्थानों से पंहुचकर हजारों महिला-पुरूष व बच्चों ने माता का पूजन कर आर्शीवाद प्राप्त किया तथा मेले में लगीं विभिन्न प्रकार के व्यंजनों की दुकानों पर चांट आदि का आनन्द लिया। मेले में बच्चों के मनोरंजन के लिए झूलों आदि का भी प्रबंध किया गया। जिनका बच्चों ने खूब आनन्द उठाया। मेले में दिन खुलने के साथ ही भक्तों की भीड़ मंदिर पर बढ़ने लगी, जिस कारण यातायात की व्यवस्था गड़बड़ाने लगी, जिसे पुलिस प्रशासन के सहयोग से संभाल लिया गया, मेले में सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस बल भी मेले में तैनात रहा। जिससे किसी भक्त को किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं हुई।
मेले में किसी भी आगन्तुक को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो इसके लिए मंदिर प्रशासन द्वारा पानी, बिजली, बैरीकेडिंग व साफ-सफाई की सभी व्यवस्थाऐं देर सायं तक पूर्ण कर ली गईं थीं।
मेले में मंदिर प्रशासन की ओर से वंश गोपाल मूर्ति, रवि चैहान, टिंकू राजपूत, दामोदर, विशाल व सौनू आदि का विशेष सहयोग रहा।
मंदिर पर हाॅल व प्याऊ का हो निर्माण……
स्थानीय निवासी टिंकू राजपूत ने बताया कि प्राचीन माता मसानी मंदिर दशकों पुराना है तथा नगला मसानी का नाम भी माता मसानी के नाम पर रखा गया है, जो पूरे शहर में विख्यात है, मंदिर पर पानी की प्याऊ व भक्तों के बैठने के लिए हाॅल बने जिससे राहगीरों व भक्तों को किसी प्रकार की कोई परेशानी न हो।