रेप के बाद कत्ल किया, फिर लाशों से भी बलात्कार कर ट्रेन के टॉयलेट में छोड़ दिए शव

0
331

सरकार के लाखों वादों के बाद भी हमारे देश में महिलाएं और लड़कियां कितनी ज्यादा सुरक्षित हैं ये शायद देश का हर व्यक्ति जानता हैं। देश के हर एक कोने में आये दिन हो रही रेप की वारदातें लड़कियों की सुरक्षा पर एक बड़ा सवाल खड़ा करती दिख रही हैं।अभी हाल ही में असम से एक खबर सामने आई है कि यहां कामख्या एक्सप्रेस में चलती ट्रेन में एक छात्रा के साथ दुष्कर्म किया गया। बताया जा रहा हैं कि कुछ दरिंदो ने चलती ट्रेन में बिहार की एक छात्रा के साथ रेप कर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद लड़की का शव ट्रेन के शौचालय से बदामद किया गया हैं। छात्रा के शरीर पर जख्म के कई निशान भी हैं, जिससे ऐसी आशंका जताई जा रही है कि लड़की पर किसी धारदार हथियार से हमला भी किया गया है।

यह घटना असम के शिवसागर जिले के सिमलुगुड़ी स्टेशन के पास की हैं। जब कामख्या एक्सप्रेस स्टेशन पर पहुंची तो वहां ट्रेन के शौचालय में छात्रा की सर कटी लाश मिलने से पूरे स्टेशन पर सनसनी फैल गई। जब इस घटना के बारे में पुलिस को जानकारी मिली तो पुलिस इस घटना के सबूत जूटानें में जुड़ गई । शिवसागर के पुलिस अधीक्षक सुबोध सोनोबाल ने इस मामले में बताया ,’छात्रा की मां ने उसे शिवसागर स्टेशन पर सुबह करीब 8.50 बजे रेलगाड़ी में बिठाया था। जब रेलगाड़ी सुबह करीब 9.10 बजे सिमलागुड़ी रेलवे स्टेशन पहुंची तो लड़की का शव रेलगाड़ी के शौचालय में पाया गया’।

आपको बता दें कि छात्रा अपने रिश्तेदार के घर जा रही थी। जिसके लिए उसे फरकाटिंग रेलवे स्टेशन पर उतरना था। जब इस मामले की जांच करते हुए उस छात्रा की मां से बात की गई तो उन्होंने बताया ,’मैंने उसे मोबाइल फोन खरीदने के लिए 10 हजार रुपये दिए थे. किसी ने पैसों के लिए मेरी बेटी की हत्या कर दी और शौचालय में फेंक दिया’

अभी पुलिस इस हत्या के मामले को सुलझाने की कोशिश कर रही थी कि 24 घंटे के भीतर ही चलती ट्रेन में एक और महिला के लाश मिलने की खबर सामने आ गई । 24 घंटे में असम में ही 2 महिलाएं की लाश मिलने से पूरे प्रशासन में हड़कंप मच गया है। इस बार भी जोरहाट जिले के मरियनी से अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन के शौचालय मंर ही एक महिला का शव बरामद हुआ है। इस महिला के साथ भी दुष्कर्म किया गया और बाद में इसकी हत्या कर दी गई। पुलिस अब 24 घंटे में हुए दो घटना की जांच में जुट गई है।

असम की दो ट्रेनों में महिलाओं के साथ कथित बलात्कार और हत्या के मामले मेंं पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक मुख्य आरोपी विकास दास को 12 जुलाई को शाम तिनसुकिया रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं उसके साथी विपिन पांडे को 13 जुलाई को बानीपुुर स्टेशन पर डिब्रूगढ़-बेंगलुरु एक्सप्रेस से गिरफ्तार किया गया.

पूछताछ के दौरान आरोपियों ने चौकाने वाले खुलासे किए हैं. पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपियों के अनुसार, पीड़ितों को पहले बेहोश किया गया, इसके बाद उनसे दुष्कर्म किया. उसके बाद उनकी हत्या कर दी और शवों को शौचालयों में फेंक दिया गया. वहीं दूसरे आरोपी विपिन पांडे ने पुलिस को बताया कि उसने हत्या के बाद भी लाशों के साथ रेप किया था. पुलिस इस मामले में आरोपियों से और भी जानकारी इकट्ठा कर रही है.

एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक विकास दास को तिनसुकिया रेलवे स्टेशन के सीसीटीवी फुटेज में देखने के बाद चिरिंग चापोरी इलाके से गिरफ्तार किया. वहीं विकास दास ने अपराध में अपने शामिल होने की बात कबूली और पांडेय के बारे में जानकारी दी. उसके बाद उसे भी डिब्रूगढ़ स्टेशन से बेंगलुरू जाने वाली ट्रेन से गिरफ्तार कर लिया गया. घटना के बाद पुलिस ने ट्रेनों में होने वाले अपराधों को रोकने के लिए सख्त कदम उठाने का फैसला लिया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here