इस कश्मीरी ने अपने गाने से जीत लिया सबका दिल, आतंकवादी बनने के लिए घर छोड़ा था ….

0
399

अल्ताफ अहमद अब शायर गुलाम अहमद के नाम से जाने जाते हैं। इनकी एक मशहूर क्लासिक ,हां गुलो , का एक नया रूप पहला कश्मीरी गाना हैं जो कोक स्टूडियो पाकिस्तान के नए वेंचर,कोक स्टूडियो एक्सप्लोरर का हिस्सा बन गया हैं।
बताया जाता हैं की अल्ताफ अहमद मीर अनंतनाग के जंगलात मंडी के रहने वाले हैं उन्होंने 1990 में अपना घर छोड़ पाकिस्तान चले गए थे। उनकी आतंकवादी बनने की चाह थी।

लेकिन उनके एक हुनर ने सब कुछ बदल दिया। उनके अंदर गायिकी का ऐसा हुनर था की उन्होंने एक गाना बनाया।वह गाना ऐसा गाया की जिससे कश्मीर और बाहर के लोगों के दिल को जीत लिया।इस गाने को 12 जुलाई को यूट्यूब पर रिलीज किया गया। यह गाना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर ( पीओके ) में बनाया गया हैं।

बता दें की कुल 4 दिन के अंदर इस गाने को 3 लाख से ज्यादा बार देखा जा चुका हैं। इस गाने के बोल, हा गुलो तुही मा सा वुचवुन यार मुए, बुलबुलू तूही चाँद तू दिलदार मुए “। जानकारी के तौर पर उनके भाई जावेद अहमद ने बताया की,” वह कमाल की नक्काशी करता था। बचपन से ही उसका संगीत की तरफ झुकाव रहा था।”
उन्होंने बताया की पाकिस्तान के लिए रावण होने के 4 साल बाद. 1994 में मीर कश्मीर लोट आये, मगर आतंक के रास्ते पर नहीं गए।

बताते है की घाटी में आतंकवाद का परिदृश्य बदला हैं और विशेषकर अनंतनाग में इखवान ( आतंक को काउंटर करने के लिए बनी फोर्स ) का प्रभाव बड़ा। इखवान के डर से मीर 1995 में फिर बॉर्डर पार कर गए, इस बार वह मुजफ्फराबाद में स्थानीय रूप से बस गए।

बताते हैं की उन्होंने मुजफ्फराबाद में मीर ने नक्काशी में ट्रेनिंग देने वाले एक एनजीओ के लिए काम शरू किया, फिर कसामीर नाम से एक बैंड शरू किया।

उनके जीवन का पहला ब्रेक उन्हें पिछले साल के अंत में मिला जब कोक स्टूडियो की एक नयी टीम पाकिस्तान में नई प्रतिभा खोजने निकली थी। इस शो के लिए मीर और उनके बैंड – गुलाम मोहम्मद डार (सारंगी ),सैफ-उद-दीन शाह (तुम्बाखनईर,ड्रम जैसा दिखने वाला एक मशहूर कश्मीरी वाद्ययंत्र ),मंजूर अहमद खान (नाउत,एक कश्मीरी वाद्ययंत्र ) का चयन किया। यह सभी मूल रूप से कश्मीर के हैं।

बता दें की मीर के परिवार के लिए मीर का अचानक चर्चा में आना घाटी में लौटने जैसा ही हैं। उनके भाई जावेद ने कहा की ,” हमने बहुत कोशिश कर ली की वह घर वापस लौट आये लेकिन यह नहीं हो सका। लेकिन अब हमने उसे मशहूर होते देख लिया हैं .. अब ऐसा लगता हैं की वह घर लौट आया हो।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here