भारत लौटने की खबरों पर जाकिर नाईक बोले-‘जब निष्पक्ष सरकार होगी तब आऊंगा देश वापस’

0
339

मुंबई: अपने भड़काऊ भाषणों के लिए जाने जाने वाले विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक आज भारत वापस लौट सकता है। मलयेशियाई पुलिस ऑफिसर ने जाकिर नाईक के प्रत्यर्पण की पुष्टि की है, हालांकि जाकिर नाइक ने भारत आने से इंकार किया है। गौरतलब है कि जाकिर नाइक पर राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने 2017 में आपराधिक मामला दर्ज किया था। जाकिर नाइक पर सांप्रदायिक अशांति फैलाने, मनी लॉन्ड्रिंग जैसे आरोप हैं और वो इन मामलों में बांछित है। ज़ाकिर नाइक ने 2016 में ही भारत छोड़ दिया था, और वह मलेशिया में रह रहा था।

नायक को मलेशिया से भारत निर्वासित किए जाने की खबरों के बीच एक ऑडियो जारी किया गया है जाकिर नाइक ने कहा कि भारत आने की खबर पूरी तरह आधारहीन और झूठी है। मेरे पास भारत आने की कोई योजना नहीं है जब तक कि मैं अनुचित मुकदमे से खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करता। इंशा अल्लाह जब मुझे लगेगा कि सरकार निष्पक्ष होगी, तो मैं निश्चित रूप से अपने मातृभूमि में वापस आऊंगा।

जाकिर नाइक के वकील, मुबिन सोलकर ने भी उसके भारत आने की खबरों को नकार दिया। सोलकर ने कहा, ‘यह खबर बिल्कुल झूठी और निराधार है क्योंकि वह (जाकिर नाइक) आज भारत नहीं आ रहे हैं। जहां तक प्रत्यर्पण प्रक्रिया का सवाल है, पहले यह बताया गया था कि भारत सरकार ने प्रत्यर्पण कार्यवाही शुरू की है लेकिन कोई प्रगति नहीं हुई है।’


सूत्रों का कहना है कि विदेश मंत्रालय ने मलेशिया से इस साल की शुरुआत में उसके प्रत्यर्पण के लिए औपचारिक अनुरोध किया था और राजनयिक चैनलों के माध्यम से उस प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जा रहा है। मलेशिया द्वारा जाकिर नाइक के निर्वासन पर मीडिया रिपोर्टों को देखा। मलेशियाई अधिकारियों से हमें अभी तक आधिकारिक पुष्टि प्राप्त नहीं हुई है।

ऐसा कहा जाता है कि  2016 में ढाका में हुए आतंकवादी हमले में शामिल आईएसआईएस के आतंकियों को जाकिर नाइक के भाषणों से ही प्रेरणा मिली थी। इस हमले में एक भारतीय लड़की सहित 22 लोगों की जान चली गई थी।

जाकिर नाइक के गैर सरकारी संगठन इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन को 2016 में ही अवैध घोषित किया जा चुका है और इस मामले में 18 करोड़ रूपए से अधिक की रकम के धन शोधन के आरोपों की प्रवर्तन निदेशालय जांच कर रहा है। जाकिर नाईक एनआईए और ईडी की जांच का सामना कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here