योगी से मिले डॉ. कफील के भाई, हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई और गोरखपुर के बीजेपी सांसद पर लगाए गंभीर आरोप

0
328

गोरखपुर के बीआरडी अस्पताल केस से चर्चा में आए डॉ. कफील अहमद के छोटे भाई कासिफ जमील पर पिछले दिनों हुए जानलेवा हमले के बाद उनके एक और भाई मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जनता दरबार में मुख्यमंत्री से मिले और हमलावरों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की.

डॉ. कफील के भाई आदिल अपने एक अन्य भाई कासिफ के हमलावरों पर अब तक किसी भी तरह का कोई एक्शन नहीं लिए जाने की शिकायत करने वास्ते मुख्यमंत्री आदित्यनाथ से मिले और उनसे कहा कि 9 जून की रात कासिफ को 3 गोली मारी गई. इस घटना को 19 दिन हो गए, लेकिन इस संबंध में अब तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

साथ ही आदिल ने बीजेपी के बांसगांव के सांसद कमलेश पासवान समेत गोरखपुर के एसपी सिटी पर भी गंभीर आरोप लगाए.

सीबीआई जांच की मांग

आदिल ने शिकायती लहजे में कहा कि भाई को गोली लगने के बाद भी एसपी सिटी 4 घंटे तक मेडिकल के लिए टहलाते रहे, एसपी सिटी की वजह से कासिफ के इलाज में 4 घंटे की देरी हुई, जिससे उसकी जान भी जा सकती थी.

उन्होंने कहा कि पुलिस की ओर से आश्वासन दिया गया था कि अगले 48 घंटे में दोषियों पर कार्रवाई की जाएगी, लेकिन 19 दिन गुजर गए और अब तक कुछ भी नहीं किया गया. आदिल सीबीआई जांच की मांग भी की.

मुख्यमंत्री से मुलाकात के बाद आदिल ने कहा, ‘मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन भी दिया और कहा कि मामले से संबंधित गिरफ्तारी होनी चाहिए.’

CM आवास के नजदीक मारी गई गोली

खास बात है कि गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का होमटाउन और विधानसभा क्षेत्र भी है. जानकारी के मुताबिक, योगी के आवास से महज 500 मीटर की दूरी पर कासिफ जमील पर यह जानलेवा हमला हुआ. हमले के बाद गोरखपुर के ही एक प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था, लेकिन बाद में तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें लखनऊ रेफर किया गया.

हमले के बाद पुलिस का कहना था कि कासिफ प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करता है और इसी कारोबार के सिलसिले में उसका कई लोगों से विवाद चल रहा था. पुलिस के अनुसार जब कफील के भाई को गोली लगी तो वह खुद ही भागकर अस्पताल पहुंचे.

बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से कई बच्चों के मरने के बाद डॉ. कफील को दोषी मानकर जेल भेज दिया गया था. उन्हें हाल ही में हाईकोर्ट से जमानत मिली. इस केस में आरोपी डॉ. कफील को यूपी एसटीएफ ने लखनऊ से गिरफ्तार किया था. वह घटना के बाद से फरार चल रहे थे. कफील बीआरडी अस्पताल में वॉर्ड सुपरिंटेंडेंट थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here