नया जुमला अब सरकार रोज़गार पैदा नही करेगी, मोदी बोले- भारत का नौजवान रोजगार देने वाला बने

0
404

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं से कहा कि पूरा विश्व आज भारत की तरफ एक आशा भरी नजर से देख रहा है, क्योंकि हिंदुस्तान संभावनाओं का देश है। उन्होंने कहा कि आज हिंदुस्तान विश्व का सबसे युवा देश है। हमारे नौजवानों के पास हुनर है और यह देश की सबसे बड़ी ताकत है। मोदी ने कहा कि वह चाहते हैं कि देश का नौजवान नौकरी मांगने वाला नहीं, बल्कि नौकरी देने वाला बने। वह और लोगों को रोजगार दे।

इससे पहले मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा था, ‘कल सुबह 9:30 बजे, मैं स्टार्ट-अप और नवाचार की दुनिया के युवाओं के साथ एक रोमांचक बातचीत में भाग लूंगा। बातचीत से सीधे सुनने का एक शानदार अवसर मिलता है।’

प्रधानमंत्री ने युवाओं को अपने नवाचार, आउट ऑफ़ द बॉक्स सोच और भारत को स्टार्ट-अप के लिए उभरते केंद्र के रूप में भी सराहना की। प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, ‘भारत स्टार्ट-अप और नवाचार के लिए एक केंद्र के रूप में उभरा है। भारतीय युवाओं ने अपने भविष्य और आउट-द-बॉक्स सोच के कारण खुद को प्रतिष्ठित किया है।’

PM मोदी ने कहा कि जबसे हमाली सरकार बनी है तभी से सरकार ने युवाओं की ताकत को बढ़ाने के लिए काम किया है। स्टार्ट अप इंडिया की शुरुआत करने का उद्देश्य युवा को शक्ति देना था। पीएम ने कहा कि पहले स्टार्ट अप सिर्फ टियर-1 सिटी में होते थे, लेकिन हमने बल दिया कि इसे टियर-2, टियर-3 में ज्यादा स्टार्ट अप हो सके।

पीएम ने कहा कि आज देश में सिर्फ शहर नहीं बल्कि गांवों के युवा भी आगे बढ़ रहे हैं। इस दौरान उन्होंने कुछ आंकड़े भी जारी किए। उन्होंने कहा कि अभी तक जो स्टार्ट अप शुरू हुए हैं उनमें से 45 फीसदी महिलाओं के द्वारा शुरू किए गए हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री ने देश के कई हिस्सों में युवाओं से सीधे बात की और उनके अनुभव को जाना।

देश के युवाओं को स्वरोजगार करने को प्रेरित करने के लिए पीएम मोदी ने स्टार्टअप इंडिया जैसी महत्वाकांक्षी योजना शुरू की है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने साल 2016 में ‘स्टार्टअप इंडिया’ को लॉन्च किया था। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा था, ‘जो कुछ करना चाहते हैं उनके लिए पैसा मायने नहीं रखता। जो करता है उसी को दिखता है कि क्या होने वाला है। देश का युवा जॉब क्रिएटर बने।’

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इससे पहले भी नमो ऐप के जरिए उज्जवला योजना, मुद्रा योजना, स्किल इंडिया समेत कई अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से बात कर चुके हैं।

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने युवाओं के साथ बातचीत में शामिल होने और इसमें भाग लेने की अपनी इच्छा व्यक्त की। ट्विटर पर पीएम मोदी बोले, ‘मैं विशेष रूप से अपने युवा मित्रों से बातचीत में शामिल होने का आग्रह करता हूं। सीखने, बढ़ने और प्रेरित होने का यह एक शानदार मौका है। आप ‘नरेंद्र मोदी मोबाइल ऐप’ या @ डीडी न्यूजलाईव के माध्यम से बातचीत में शामिल हो सकते हैं। अगर आपके पास कोई विचार या सुझाव है , इसे सोशल मीडिया पर साझा करें।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here