नीतीश कुमार को जनता ने सबक सिखाया, ये ट्रेलर है पिक्चर अभी बाकी है

0
216

पटना: बिहार के जोकीहाट विधानसभा उपचुनाव को सीएम नीतीश कुमार के लिए प्रतिष्ठा के तौर पर देखा जा रहा था, मगर अब नतीजे सामने आने के बाद नीतीश कुमार को बड़ा झटका लगा है और राजद ने इस उपचुनाव में बाजी मार ली है. राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक बार फिर से नीतीश कुमार को पटखनी दे दी है. वोटों की गिनतीके बाद नतीजे सामने आ गये हैं और राजद के शहनवाज आलम ने 41224 वोटों के अंतर से जदयू के उम्मीदवार को हरा दिया है. जोकीहाट में आरजेडी की जीत पर पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव नीतीश कुमार  पर तंज कसा है।

तेजस्वी ने कहा कि धन बल से भी नहीं जीत पाए। अब नीतीश कुमार को इस्तीफा दे देना चाहिए। क्योंकि वह हमारे वोट से जीते थे। जनता ने बीजेपी को सबक सिखाया है। यह जीत अमन की बात करने वालों की हुई है। हमलोगों को सभी समुदायों का समर्थन मिला है। जनता में सत्ता पक्ष के खिलाफ आक्रोश था। उसी का नतीजा है कि हमारी जीत हुई है। तेजस्वी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि लालू विचार नहीं विज्ञान है। तेजस्वी ने कहा कि अभी तो ये ट्रेलर है पिक्चर बाकी है।

केसी त्यागी का बयान

उपचुनाव में हार पर जनता दल यूनाइटेड के राज्यसभा सांसद केसी त्यागी ने कहा कि उपचुनाव के नतीजे एनडीए के लिए सबक है। आज सहयोगी दल अलग थलग महसूस कर रहे हैं। हार से सबक लेने की जरूररत है|

नूरपुर में सपा की जीत

वहीं नूरपुर में सपा प्रत्याशी ने बाजी मार ली है। सपा के नईम उल हसन ने नूरपुर में 6211 वोटों से जीत दर्ज की है। वहीं कैराना में बीजेपी को झटका मिलने की आशंका है। कैराना लोकसभा और नूरपूर विधानसभा में समाजवादी पार्टी, बसपा और कांग्रेस के गठबंधन से तगड़ी चुनौती मिली है। कर्नाटक के के के नगर सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी की जीत हुई है। पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी अपना किला सुरक्षित रखने में सफल हुई दि हैं। वहीं मेघालय में कांग्रेस ने जीत दर्ज कर ली है। झारखंड में बीजेपी गोमिया और सिल्ली विधानसभा क्षेत्रों में पिछड़ती नजर आ रही है। यहां झारखण्ड मुक्ति मोर्चा दोनों सीटों पर बढ़त बनाए हुए हैं। वहीं उत्तराखंड खलाली विधानसभा उपचुनाव में बीजेपी को जीत मिली है।

राजनीतिक दलों ने झोंकी ताकत

इन उपचुनावों के लिए सभी राजनीतिक दलों ने पूरी ताकत झोंक दी थी। चुनावों में हर राजनीतिक पार्टी के बड़े चेहरे भी प्रचार करते दिखे थे। एक तरह जहां सत्तारूढ़ बीजेपी के लिए ये चुनाव केंद्र और राज्यों में उसकी सरकारों के लिए लिटमस टेस्ट माने जा रहे हैं वहीं विपक्षिन दलों के लिए उम्मीद की किरण लेकर आये हैं। अभी तक मिले रुझानों के अनुसार बीजेपी को सीटों के नुकसान होने का अंदेशा है।

बता दें कि जोकीहाट सीट के लिए वोटों की गिनती के दौरान शुरू में राजद ने बढ़त बनाई, मगर बाद में सत्ताधारी पार्टी जनता दल यूनाइटेड आगे हो गई. हालांकि, जब तक नतीजे आने तक आगे-पीछे ये आंकड़े होते रहे. जोकीहाट विधानसभा उपचुनाव मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए प्रतिष्ठा की लड़ाई थी, क्योंकि जब पिछले साल नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ मिलकर सरकार का गठन किया था, तब जदयू के विधायक ने पार्टी का साथ छोड़कर राजद का हाथ थामा था. जोकीहाट में जनता दल यूनाइटेड के उम्मीदवार मुर्शीद आलम और राजद के शहनवाज आलम के बीच थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here